HomeShikshaEncoder क्या है, और यह कैसे काम करता है?| What is Encoder...

Encoder क्या है, और यह कैसे काम करता है?| What is Encoder in Hindi & How it Works?

आज हम Encoder और Decoder के बारे में अच्छे से समझेंगे। लेकिन, उस से पहले जरूरी है की आप logic gates और number system के बारे में जानते हों.

Digital Electronics के क्षेत्र में Encoder और Decoder दोनों ही बहुत important role play करते हैं. यह data या किसी भी information को एक form से दूसरे form में convert करते हैं.

Decoder or Encoder दोनों का उपयोग communication system like telecommunication में किया जाता है. Transmitter side पर Encoder का और reciving side पर decoder का.

Encoder, किसी भी data या information को encrypt (original information को एक code की form में convert करना) करता है, और Receiver side पर Decoder, data या information को decrypt (डाटा की coded form को decode करके original data/information में बदलता) करता है.

आज इस article में हम समझेंगे की Encoder Kya Hai? यह कितने प्रकार के होते हैं और साथ ही इनकी applications के बारे में समझेंगे।

Table of Contents

Encoder Kya Hai? | What is Encoder in Hindi?

यह एक combinational circuit है. जो binary information यानी 2input lines को n output lines में बदलता है.

Encoder में एक ही समय पर एक ही input line activate (high) रहती है, और उसी के आधार पर output produce होता है.

Also Read: Adder Kya Hai?

कई लोगो का प्रश्न होता है की एनकोडर में इनपुट और आउटपुट line कितनी होंगी, यह कैसे पता चलेगा? मान लीजिये, हमे एक ऐसा encoder बनाना है, जिसमे 8 इनपुट लाइन्स हैं, तो हम कैसे मालूम करेंगे की इसमें कितनी आउटपुट लाइन्स होंगी?

8 = 2n

23 = 2n

n = 3  

यानी 8 input lines के encoder में 3 output lines होंगी।

what is Encoder in Hindi

Encoder कितने प्रकार के होते हैं? | Types of Encoder in Hindi

Digital electronics में encoder कई प्रकार के होते हैं,

  1. 4 to 2 Line Encoder or 4:2 Encoder
  2. 8 to 3 Line Encoder or 8:3 Encoder
  3. Decimal to BCD Encoder
  4. Priority Encoder

1) 4:2 Encoder

इस encoder में 4-input lines (I0, I1, I2, I3) और 2-output lines (E0, E1) होती है. ध्यान रखने योग्य बात यह है की एक time पर एक ही input-line active यानी high होती है.

what is encoder in hindi

4 to 2 Encoder Truth Table

I0I1I2I3E0E1
100000
010001
001010
000111

आइये, अब truth-table की मदद से output Eऔर Eके expression निकालते हैं. Truth-table से देखें की, Eमें ‘1’ कब आया, ट्रुथ-टेबल से पता चलता है की ‘1’ तब आया, जब Iऔर Iinput-lines ‘1’ थी. तो Eकी equation कुछ इस प्रकार है,

E= I+ I

इसी प्रकार, E= I+ I3, क्योंकि, जब Iऔर Iथे, तभी output Eभी ‘1’ आया.

आइये, Eऔर E1 की equation को  OR logic gate मदद से implement करते हैं.

what is encoder in hindi

2) 8:3 Encoder

यह एनकोडर, octal to binary encoder भी कहलाता है. इसमें 8-input lines (I0, I1, I2, I3, I4, I5, I6, I7) और 3-output lines (E0, E1, E2) होती है.

what is encoder in hindi

इस encoder में भी एक समय पर एक ही इनपुट लाइन active यानी high (‘1’) होती है.

8 to 3 Encoder Truth Table

I7I6I5I4I3I2I1I0E2E1E0
00000001000
00000010001
00000100010
00001000011
00010000100
00100000101
01000000110
10000000111

जैसा की 4: 2 Encoder में आपने equation find out की बिल्कुल वैसे ही Truth table को देखें  और बताएं की output line Eकब ‘1’ हुयी?

यह तब ‘1’ हुयी, जब input line I1, I3, I5, I‘1’ थे.

E= I+ I3 + I5 + I7

इसी प्रकार, Eमें आउटपुट ‘1’ तब मिला, जब I2, I3, I6, I input-line ‘1’ थे. Eमें output ‘1’ तब मिला, जब I7, I5, I6, I4 input lines active थी.

E1 = I2 + I3 + I6 + I7

E= I4 + I+ I6 + I7

आइये, अब इन प्राप्त expressions को OR gate की मदद से implement हैं.

what is encoder in hindi

3) Decimal to BCD Enocder

इस एनकोडर के नाम से समझ में आता है की इसमें 10 इनपुट lines और 4-आउटपुट lines होती हैं. हर एक इनपुट line एक डेसीमल डिजिट को और 4 आउटपुट line BCD Code को represent करती है. यह Encoder, decimal data को BCD form में code करता है.

what is encoder in hindi

Truth Table of Decimal to BCD Encoder

I9I8I7I6I5I4I3I2I1I0E3E2E1E0
00000000010000
00000000100001
00000001000010
00000010000011
00000100000100
00001000000101
00010000000110
00100000000111
01000000001000
10000000001001

अब हम output lines E0, E1, E2, और E3  के expression को truth-table की मदद से लिखते हैं. हम Truth-table से समझ सकते हैं की E0, E1, Eऔर Eआउटपुट lines तब active यानी high (‘1’) हुयी, जब E(I1, I3, I5, I7, I9), E1 (I2, I3, I6, I7), E2(I4, I5, I6, I7), E3 (I8, I9) input lines active यानी ‘1’ थी.

E0, E1, E2 और Eके expression,

E0 = I1 + I3 + I5 + I7 + I9

E1 = I2 + I3 + I6 + I7

E2 = I4 + I5 + I6 + I7

E3 = I+ I9

ऊपर लिखे गए expressions को OR gate की मदद से implement करें।

what is encoder in hindi

4) Priority Encoder

Normal Encoder की तरह Priority Encoder भी कई प्रकार के होते हैं,

  1. 4 is to 2 priority encoder
  2. 8 is to 3 priority encoder
  3. 16 is to 4 priority encoder

जैसा की priority encoder के नाम से ही स्पष्ट है की इसमें information lines यानी input lines की एक priority होती है. जैसे- 4 × 2 encoder में, 4 input lines (I3, I2, I1, I0) और 2 output lines होती हैं.

अब इन information line या input line में सबसे ज्यादा priority Iकी और सबसे lowest priority Iकी है. कहने का मतलब यह है की अगर I3 और I2 दोनों data-input lines ‘1’ और I1, I0 ‘0’ है, तो output code जो produce होता है, वह I3 के according generate होता है. क्योंकि, Iकी priority Iसे ज्यादा है.

बिल्कुल, इसी प्रकार यदि I2, I1, I0 lines ‘1’ है, तो output I2 line के अनुसार ही produce होगा, क्योंकि, I2, I1,और  I0 में सबसे highest priority I2 की होती है.

Truth Table of 4 to 2 Priority Encoder

I3I2I1I0E1E0I
0000XX0
0001001
011X011
01XX101
1XXX111

K-Map का प्रयोग कर output lines Eऔर Eके expression drive करेंगे। जहाँ पर ‘X’ (don’t care condition) इस प्रकार का symbol है, जिसमें ‘0’ और ‘1’ दोनों आते हैं.

what is encoder in hindi

E1 = I2 + I3

इस truth-table में जहाँ-जहाँ ‘X’ है, वहां एक बार ‘1’ और एक बार ‘0’ रखेंगे। फिर K-Map में उसी हिसाब से मान रखेंगे। जिस प्रकार, Eका expression drive किया है, उसी प्रकार Eका expression भी निकालेंगे।

what is encoder in hindi

E0 = I3 + I1.I2

इन प्राप्त expression को OR gate की मदद से implement करते हैं.

What is encoder in hindi

Priority Encoder का क्या utilization है?

1) यह अस्पष्टता है की normal encoder में इनपुट 0 होने पर आउटपुट zero के बराबर कैसे हो सकते हैं.

2) एक से ज्यादा इनपुट high यानी ‘1’ होने पर भी output प्राप्त होता है, जो की एक incorrect output होता है. ऐसे में priority encoder इस समस्या का अच्छा हल है.

Applications of Encoder in Hindi

Encoder का उपयोग कई applications में किया जाता है,

1) Automatic health monitoring system

2) Electronics and medical industry

3) Speed Synchronization

4) Home automation system

5) Robotics Vehicle

6)Night vision flying camera

एनकोडर और डिकोडर में क्या अंतर है? | What is the difference between Encoder and Decoder in Hindi?

S.No.EncoderDecoder
1.Encoder किसी भी original information को code की form में convert करता है.Decoder, प्राप्त coded data को original data form में convert करता है
2.इसमें 2n input signal होते हैं.इसमें n input signal होते हैं.
3.इसमें n आउटपुट lines होती हैं.जबकि डिकोडर में 2n output lines होती हैं.
4.इसकी designing में OR gate, basic element होता है.इसकी designing में AND और NOT gate  basic element होते है.
5.इसका उपयोग email, video encoder आदि में किया जाता है.माइक्रोप्रोसेसर, मेमोरी chips आदि में decoder का उपयोग किया जाता है.
6.कम्युनिकेशन सिस्टम में एनकोडर हमेशा trasmitting end पर लगाया जाता है.जबकि decoder को receving end पर लगाया जाता है.
   
   
   
Gauri
Gaurihttps://hindipradesh.com/
हैलो, मेरा नाम ग्लोरी है. मै इंजीनियरिंग में अपनी पढ़ाई पूरी कर चुकी हूँ. मुझे रिसर्च का और लिखने का शौक है. मुझे प्रकर्ति के साथ रहना अच्छा लगता है.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post