फोटोडायोड क्या है और कैसे काम करता है? (What is Photodiode in Hindi and How it Works?)

Photodiode  एक प्रकाश डायोड है. इसे photodetector, light detector, light sensor या प्रकाश डायोड के नाम से भी जाना जाता है. P-N डायोड की तरह यह भी एक अर्धचालक (semiconductor) device है.

यह डायोड reverse bias mode में काम करता है. यहाँ पर reverse bias mode से मतलब यह है की डायोड की P-side, बैटरी के negative terminal से और N-side, बैटरी के positive terminal से जुडी होती है.

Photodiode या प्रकाश डायोड, प्रकाश ऊर्जा (Light Energy) को विघुत ऊर्जा (Electrical Energy) में परिवर्तित करता है. उम्मीद है की आपको अच्छे से समझ आ गया होगा की photodiode kya hai?

Table of Contents

प्रकाश डायोड का प्रतीक चिन्ह/Photodiode Ka Symbol

What is photodiode in hindi

प्रकाश डायोड के प्रकार/Types of Photodiode

प्रकाश डायोड कई प्रकार के होते हैं,

(1) PN Photodiode

(2) PIN Photodiode

(3) Schottky Photodiode

(4) Avalanche Photodiode

Photodiode में प्रयुक्त होने वाले पदार्थ कौन-कौन से हैं?

सिलिकॉन (Si), जर्मेनियम (Ge), इंडियम गैलियम आर्सेनाइड, लेड, मरकरी, कैडमियम टेलुराइड आदि पदार्थों को photodiode बनाने में प्रयुक्त किया जाता है.

प्रकाश डायोड कैसे काम करता है?/Photo Diode Working in Hindi

हम जानते हैं की photodiode एक ऐसा डिवाइस है जो प्रकाश ऊर्जा (Light Energy) को विघुत ऊर्जा (Electrical Energy) में बदलता है. जब प्रकाश डायोड पर कोई प्रकाश (light) नहीं पड़ता है, तो एक small current मिलती है. उस current को Dark Current कहते हैं. यह current, minority charge carriers के कारण मिलती है.

What is photodiode in hindi

जैसा की हम पढ़ चुके हैं की P-type सेमीकंडक्टर में इलेक्ट्रान minority carriers होते हैं और N-Type सेमीकंडक्टर में holes minority charge carriers होते हैं. यदि आप नहीं जानते हैं तो अर्धचालक पदार्थ क्या हैं, और कितने प्रकार के होते हैं? इसे पढ़ें

P-side में इलेक्ट्रॉन्स बैटरी के ऋणात्मक सिरे (Negative Terminal) द्वारा repel किये जाते हैं. N-Side में holes बैटरी के धनात्मक सिरे (Negative Terminal) द्वारा repel किये जाते हैं.  इलेक्ट्रान और होल जंक्शन पर combine होते हैं और ion generate होते हैं. फलस्वरूप, depletion-layer बनने लगती है।

क्या होता है जब प्रकाश-डायोड पर लाइट पड़ती है?

जब photodiode पर लाइट पड़ती है, तो temperature बढ़ने लगता है और covalent bond टूटने लगते हैं. फलस्वरूप, इलेक्ट्रान और होल बनने लगते हैं.

इलेक्ट्रान बैटरी के धनात्मक सिरे (positive-terminal) द्वारा attract किये जाते हैं और holes बैटरी के ऋणात्मक सिरे (Negative-terminal) द्वारा attract किये जाते हैं. फलस्वरूप, धारा (current) बहने लगती है.

यदि आप फोटो डायोड पर पड़ने वाली प्रकाश की तीव्रता (light of intensity) को बढ़ाते हैं तो अधिक मात्रा में covalent-bond टूटेंगे और अधिक मात्रा में करंट बहने लगेगी।

फोटोडायोड का अभिलक्षणिक वक्र/Photo Diode Characterstics

हमे पता है की प्रकाश डायोड reverse-bias mode में काम करता है. यहाँ X-axis पर वोल्टेज और Y-axis पर धारा (Current) को प्रदर्शित की गई है.

What is photodiode in hindi

पहला, वक्र (curve) dark current को प्रदर्शित करता है. यह current, minority-charge carriers के कारण मिलती है, जब डायोड पर लाइट नहीं पड़ती है.

याद रहे, मिलने वाली धारा या current प्रकाश की तीव्रता पर निर्भर करती है, न की  बैटरी पर.

प्रकाश डायोड की उपयोगिता/Photodiode Ke Upyog

(1) Photodiode का उपयोग smoke-detector, counters, CD-player, TV, camera-light detector, clock-radios, Blood-Glass Monitors, Computer-tomography आदि.

(2) फोटो-डायोड का उपयोग optical-communication में किया जाता है.

उम्मीद है की आपको यह आर्टिकल अच्छे से समझ आया होगा। What is photodiode in Hindi, Photodiode working in Hindi से जुड़े प्रश्नो को कमेंट बॉक्स में लिखें।

Frequently Asked Questions

Question1: क्या, फोटोडायोड invisible light को detect कर सकता है? | Is photodiode detect invisible light?

Answer: हाँ, फोटोडायोड invisible light को detect कर सकता है.

Leave a Comment