हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम क्या है (What is Hexadecimal Number System in Hindi?)

हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम, कंप्यूटर नंबर सिस्टम में नंबर को दर्शाने की एक तकनीक है. इस नंबर सिस्टम में 16 numbers (0 से 15 तक) होते हैं, जिसमे से 10 अंक (0, 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9) और 6 alphabets (A, B, C, D, E, F) होते हैं. Decimal Number System में इन alphabets को A = 10, B = 11, C = 12, D = 13, E = 14, F = 15 दर्शाया जाता है.

हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम का आधार (Base or Radix ) 16 होता है. उदहारण के लिए, (1F3)16 .

Also Read: What is Basic Laws of Boolean Algebra in Hindi?

यदि किसी नंबर के आगे (prefix) 0x और पीछे(suffix) h या H लगा होता है. तब वह नंबर हेक्साडेसीमल नंबर होता है. उदाहरण के लिए, 0x3F, 6Ah या 97H

उम्मीद है की आपको समझ में आया होगा की हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम क्या है (What is Hexadecimal Number System in Hindi?)

आगे, हम जानेंगे की हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम के क्या उपयोग हैं और कैसे हेक्साडेसीमल नंबर को किसी अन्य नंबर सिस्टम में बदल सकते हैं. लेकिन, इसके लिए जरूरी है की आपको पता हो की Decimal Number System, Binary Number System और Octal Number System क्या है?

Table of Contents

हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम के क्या उपयोग हैं? (What are the Uses of Hexadecimal Number System in Hindi?)

  • इस नंबर सिस्टम का उपयोग प्रोग्रामर्स, कंप्यूटर डिज़ाइनर और माइक्रोप्रोसेसर में किया जाता है.
  • वेब पेज पर colors के लिए इनका उपयोग किया जाता है.
  • मेमोरी की locations को describe करने के लिए hexadecimal number का प्रयोग किया जाता है.
  • कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) में हेक्साडेसीमल नंबर का उपयोग किया जाता है.
  • Data Science और Machine Learning में भी इस सिस्टम का उपयोग किया जाता है. 

अब हम पढ़ेंगे की कैसे किसी भी हेक्साडेसीमल नंबर को डेसीमल, बाइनरी और ऑक्टल नंबर में कैसे बदल सकते हैं.

हेक्साडेसीमल नंबर को डेसीमल नंबर में कैसे बदलें? (How to Convert Hexadecimal to Decimal Number System in Hindi?)

Hexadecimal Number को Decimal में कैसे बदलें, इसे हम एक उदाहरण से समझते हैं,

(FA3)16 का डेसीमल में क्या मान होगा?

हेक्साडेसीमल नंबर को डेसीमल में बदलने के लिए सबसे पहले हम उनकी positional value को define करें, जैसा की नीचे लिखा गया है,

F          A         3

2          1           0

(FA3)16 = 3 × 16+ A × 16+ F × 16

= 3 ×1 + 10 ×16 +15 × 256

= 3 + 160 + 3840

(FA3)16 = (4003)10 

हेक्साडेसीमल नंबर को बाइनरी में कैसे बदलें? (How to Convert Hexadecimal to Binary Number System in Hindi?)

किसी भी हेक्साडेसीमल नंबर को बाइनरी में बदलने के लिए, नीचे लिखी गई Table को पढ़ें।

Hexadecimal NumberBinary Number
00000
10001
20010
30011
40100
50101
60110
70111
81000
91001
A1010
B1011
C1100
D1101
E1110
F1111

उदाहरण के लिए,

(7AF)16 

यदि आप टेबल से देखेंगे, 7 = 0111, A = 1010, F = 1111

(7AF)16 = (0111  1010 1111)

Note: यदि आपको टेबल याद नहीं रहती है, तो आप 8421-code का भी प्रयोग कर सकते हैं. यदि आप इस कोड की सारी डिजिट को जोड़ते (8 + 4 + 2 + 1) हैं, तो योग 15 आता है.

अगर, आपको 7 को लिखना है, तो डिजिट 4, 2 और 1 के नीचे ‘1’ रखेंगे और बाकि डिजिट के नीचे ‘0’ रखेंगे। इसी प्रकार, A और F के लिए भी लिखेंगे।

हम जानते हैं की, A = 10 होता है.

8     4       2       1

1      0        1       0

8 और 2 को जोड़ने पर योग 10 आता है. तो, 8 और 2 के नीचे डिजिट ‘1’ रखी गई है, और बाकि के नीचे ‘0’.

हम जानते हैं की, F = 15 होता है,

8         4          2      1

1          1           1      1

सारी डिजिट्स को जोड़ने पर योग 15 होता है.

हेक्साडेसीमल नंबर को ऑक्टल में कैसे बदलें। (How to Convert Hexadecimal to Binary Number System in Hindi?)

हेक्साडेसीमल नंबर को direct ऑक्टल नंबर सिस्टम में नहीं बदला जा सकता है. इसके लिए, पहले हेक्साडेसीमल नंबर को डेसीमल में बदलेंगे। फिर, डेसीमल नंबर को ऑक्टल में बदलेंगे। आइये, इसे उदाहरण से समझते हैं,

(6BC)16 को पहले डेसीमल में बदलेंगे।

= 6   B    C

2   1     0      (Positional Value)

=  6 × 16+ B × 16+ C × 16

= 6 × 256 + 11 × 16 + 12 × 1

= 1536 + 176 + 12

= (1724)10 

अब प्राप्त डेसीमल नंबर को ऑक्टल में बदलने के लिए, नंबर को 8 से विभाजित (divide) करेंगे। तब तक divide करेंगे, जब तक भागफल 0 न हो जाये।

hexadecimal number system in hindi

(6BC)16 = (1724)10 = (3274)

Frequently Asked Questions (FAQs)

प्रश्न-1 हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम का अविष्कार किसने किया? (Who invented Hexadecimal Number System?)

उत्तर- Nystrom ने, 1859 में हेक्साडेसीमल नंबर का अविष्कार किया।

प्रश्न-2 हेक्साडेसीमल नंबर सिस्टम में FF के बाद क्या आता है? (What comes after FF in Hexadecimal?)

उत्तर- यदि FF को डेसीमल में बदलें, तो (255)10 प्राप्त होता है.

डेसीमल में 255 के बाद की value (256)10 होती है. यदि 256 को हेक्साडेसीमल में बदलें, तो 100 प्राप्त होता है. अथार्त हेक्साडेसीमल में FF के बाद 100 आता है.

प्रश्न-3 हेक्साडेसीमल नंबर को प्रयोग करने के क्या लाभ हैं? (What is the advantage of using hexadecimal numbers in Hindi?)

उत्तर- कम मेमोरी का प्रयोग करता है और मेमोरी एड्रेस को दर्शाने के लिए.

प्रश्न-4 हेक्साडेसीमल नंबर के क्या नुक्सान हैं?

उत्तर- Hexadecimal Number का प्रयोग करके Arithmetic Operations परफॉर्म करना कठिन है.

आशा है की इस आर्टिकल में आपको अपने प्रश्नों का जवाब मिला होगा।

Leave a Comment