HomeFull FormsFATF क्या है, FATF Ka Full Form क्या है, और यह कैसे...

FATF क्या है, FATF Ka Full Form क्या है, और यह कैसे काम करता है?

भ्र्ष्टाचार, आंतकवाद, मानुष तस्करी, काला धन और हथियार तस्करी जैसी, समस्याओं से जूझ रहे देशों को निजात दिलाने के लिए FATF जैसी आर्गेनाइजेशन का निर्माण किया गया. FATF का उद्देश्य विश्व में बढ़ रही आंतकी गतिविधियों को पूर्ण रूप से रोकना है. यदि कोई भी देश, FATF द्वारा, किसी भी ऐसी गतिविधि में सलग्न पाया जाता है, जो पूरे विश्व को खतरे में डाल सकती है, तो FATF उन देशों पर रोक लगाने की पूरी कोशिश करता है.

अभी हाल ही में FATF ने पाकिस्तान को Grey list में डाला है. यदि पाकिस्तान FATF के बनायें गये मानकों या नीतियां (Rules) पर खरा उतरता है तो उसे ग्रे-सूची (Grey-list) से बाहर कर दिया जायेगा। लेकिन, यदि वह इन मानकों पर खरा नहीं उतरता है, तो इस देश को मिलने वाली सभी प्रकार की वित्तीय सहायता पर प्रतिबन्ध लगा दिया जायेगा।

इस से पहले की हम जानें की FATF kya hai? FATF का उद्देश्य और इसके मानक क्या हैं? उस से पहले हम जान लेते हैं की ग्रे-सूची (Grey List) और ब्लैक-सूची (Black list) क्या है?

Table of Contents

ग्रे-सूची क्या है? (What is Grey List of FATF in Hindi?)

इस सूची में उन देशों को शामिल किया जाता है. जिन पर यह संदेह होता है, की उनको दी जाने वाले वित्तीय मदद (Financial Help) का उपयोग किसी आंतकवादी संगठन द्वारा किया जा रहा है.

ऐसे देशों को ग्रे -लिस्ट में रखने का उद्देश्य आंतकवादी संगठनों को वित्तीय सहायता पहुंचाने से रोकना है.

pH का फुल-फॉर्म क्या है?

WHO क्या है, और यह कैसे काम करता है? 

यदि किसी देश को FATF द्वारा ग्रे लिस्ट में शामिल कर लिया जाता है, तो वर्ल्ड बैंक और अन्य देशों द्वारा मिलने वाली वित्तीय सहायता पर रोक लगा दी जाती है. साथ ही अन्य देश ग्रे-लिस्ट में शामिल देश के साथ किसी भी प्रकार का व्यापार नहीं करते हैं.

Gmail का full-form क्या है?

अंततः, ग्रे-लिस्ट में शामिल देशों को भविष्य में पूर्ण रूप से बहिष्कार का सामना भी करना पड़ सकता है.

ब्लैक-लिस्ट क्या है? (What is FATF Black List in Hindi?)

वे देश, जो आंतकवादियों या आंतकी संगठनों को वित्तीय सहायता प्रदान करते हैं, और उनकी गतिविधियों को समर्थन प्रदान करते हैं. वे देश FATF द्वारा ब्लैक-लिस्ट में शामिल किये जाते हैं. आइये जानते हैं, FATF ka Full Form Kya Hai और यह कैसे काम करता है?

FATF का फुल-फॉर्म क्या है? (FATF Ka Full Form Kya Hai?)

Full Form of FATF = Financial Action Task Force

FATF का फुल फॉर्म हिंदी में = वित्तीय कार्यवाही बल

FATF Kya Hai in Hindi? (What is FATF in Hindi?)

FATF एक इंटर-गवर्नमेंटल संगठन है. इसका गठन 1989 में G7 की पहल पर किया गया था. जिसका मुख्य उद्देश्य मानव तस्करी, आंतक संगठन, हथियार तस्करी और मनी लॉन्डरिंग आदि को रोकना था. इन गतिविधियों को रोकने के लिए FATF ने कई नीतियां बनायी हैं, जिनको हर देश द्वारा मानना अनिवार्य है.

यदि कोई देश इन नीतियों को नहीं मानता है, तो उसको चेतावनी (कुछ समय देकर की, वह अपने देश में हो रही आंतकी गतिविधियों को रोकने का प्रयास करे) देकर ग्रे-सूची में डाल दिया जाता है. यदि वह देश इन  गतिविधियों पर पूरी तरह से रोक लगा लेता है, तो उसको इस सूची से बाहर कर दिया जाता है. नहीं तो, उस देश को ब्लैक-लिस्ट में डाल दिया जाता है.

कोई भी देश, अगर ब्लैक-लिस्ट में शामिल कर लिया जाता है, तो उसको मिलने वाली वित्तीय सहायता पर पूर्ण रूप से रोक लगा दी जाती है.

FATF का मुख्यालय कहाँ स्थित है? (Headquarters of FATF in Hindi)

FATF ka mukhyalay पेरिस, फ्रांस में स्थित हैं.

FATF में सदस्यों की कितनी संख्या है? (How Many Members in FATF in Hindi?)

39 देश, इस संगठन का हिस्सा है, जिसमे से 37 देश और 2 रीजनल संगठन शामिल हैं.

रीजनल संगठन

१) यूरोपियन कमीशन

२) गोल्फ कॉर्पोरेशन कॉउन्सिल

37 देश, जो FATF संगठन का हिस्सा है,

१) ऑस्ट्रेलिया

२) ऑस्ट्रिया

३) अर्जेंटीना

४) बेल्जियम

५) ब्राज़ील

६) कनाडा

७) चीन

८) डेनमार्क

९) फिनलैंड

१०) फ्रांस

११) जर्मनी

१२) ग्रीस

१३) चीन

१४) आइसलैंड

१५) इंडिया

१६) आयरलैंड

१७) इजराइल

१८) इटली

१९) जापान

२०) लक्सेम्बर्ग

२१) मलेशिया

२२) मेक्सिको

२३) निदरलैंड

२४) न्यूजीलैंड

२५) नॉर्वे

२६) पुर्तगाल

२७) रशियन फेडरेशन

२८) साऊदी अरब

२९) सिंगापुर

३०) साउथ-अफ्रीका

३१) साउथ कोरिया

३२) स्पेन

३३) स्वीडन

३४) स्विट्ज़रलैंड

३५) टर्की

३६) यूनाइटेड किंगडम

३७) यूनाइटेड स्टेट्स

FATF कैसे काम करता है? (How FATF Works in Hindi?)

१) यह एक inter-government संगठन है, जो आतंकी गतिविधियों को रोकने के लिए कई नीतियां बनाती है. जब तक कोई देश FATF द्वारा बनाई गई नीतियों को follow करता है या उन पर खरा उतरता है, तो वह ग्रे-लिस्ट और ब्लैक-लिस्ट से बाहर रहता है.

२) वर्चुअल-करेंसी पर भी FATF द्वारा नीतियां बनाने के लिए विचार किया जा रहा है. क्या आप जानते हैं की वर्चुअल करेंसी क्या है? यदि नहीं, तो पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

आशा है की यह आर्टिकल पढ़ कर आपको जानकारी मिली होगी की FATF kya hai, FATF ka full form kya है? इस सम्बन्ध में आपके कोई भी प्रश्न हों, उनको कमेंट बॉक्स में लिखें।

Gauri
Gaurihttps://hindipradesh.com/
हैलो, मेरा नाम ग्लोरी है. मै इंजीनियरिंग में अपनी पढ़ाई पूरी कर चुकी हूँ. मुझे रिसर्च का और लिखने का शौक है. मुझे प्रकर्ति के साथ रहना अच्छा लगता है.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Post